दक्षिण दिल्ली में अधिकारियों ने पुरानी ‘दरगाह’ के स्थल पर अतिक्रमण हटाने की कार्रवाई की

0
160
हजरत निजामुद्दीन दरगाह के पास एक प्रमुख सड़क के बगल में स्थित एक पुरानी ‘दरगाह’

नयी दिल्ली: दक्षिण दिल्ली में हजरत निजामुद्दीन दरगाह के पास एक प्रमुख सड़क के बगल में स्थित एक पुरानी ‘दरगाह’ के स्थल पर अधिकारियों ने शनिवार को भारी सुरक्षा तैनाती के बीच “अतिक्रमण हटाने” की कार्रवाई की। पुलिस ने यह जानकारी दी।

दरगाह की देखरेख करने वाले (केयरटेकर) यूसुफ बेग ने कहा कि सैयद अब्दुल्ला उर्फ भूरे शाह की दरगाह “सदियों पुरानी” है तथा मुस्लिम और हिंदू दोनों समुदायों के लोगों द्वारा पूजनीय हैं। यह 16वीं शताब्दी का एक दोमंजिला-गुंबददार मुगल-युग का स्मारक है और सब्ज बुर्ज के पास एक भूखंड पर स्थित है।

व्यस्त जाकिर हुसैन मार्ग के सामने वाले स्थल पर अधिकारियों की कार्रवाई के दौरान पुलिस और अर्धसैनिक बल के जवानों को तैनात किया गया था।

पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया, “लोक निर्माण विभाग (पीडब्ल्यूडी) द्वारा फुटपाथ से अतिक्रमण हटाने का अभियान चलाया गया। पर्याप्त सुरक्षा कर्मियों की तैनाती की गई।”

उन्होंने बताया कि चूंकि दरगाह संवेदनशील निजामुद्दीन क्षेत्र में स्थित है, इसलिए अर्धसैनिक बल के जवान भी तैनात थे और उनमें से एक के पास आंसू गैस के गोले भी थे।

मौके पर तैनात अर्धसैनिक बल के एक जवान ने कहा, “हमें कानून और व्यवस्था बनाए रखने के लिए कहा गया है।”

दिल्ली पीडब्ल्यूडी के अधिकारियों से तत्काल टिप्पणी के लिए संपर्क नहीं हो सका।

(इनपुट पीटीआई-भाषा)