लोकतंत्र को मजबूती मिले और देश संविधान अनुसार चले, यही हमारी सोच: गहलोत

0
232
लोकतंत्र को मजबूती मिले और देश संविधान अनुसार चले, यही हमारी सोच: गहलोत
लोकतंत्र को मजबूती मिले और देश संविधान अनुसार चले, यही हमारी सोच: गहलोत

दिल्ली: राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने लोकतंत्र को मजबूती मिले और देश संविधान के अनुसार चले, यही उनकी सोच बताते हुए कहा है कि इसी अनुरूप प्रदेश में गरीब-अमीर के बीच की खाई को दूर करने के लिए बजट घोषणाएं कर महंगाई राहत शिविरों के जरिए महंगाई से राहत दिलाने की संकल्पना साकार हो रही है।

रॉयल बुलेटिन की खबर के अनुसार, श्री गहलोत सोमवार शाम यहां पृथ्वीराज रोड़ स्थित राजस्थान हाउस के पुनर्निर्माण कार्य की आधारशिला रख रहे थे। मुख्यमंत्री ने कहा कि राजस्थान सरकार ने पानी, शिक्षा, सड़क, स्वास्थ्य सहित राज्य के चहुमुंखी विकास में रिकॉर्ड कायम किए हैं। मुख्यमंत्री चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना में 25 लाख रुपए के निःशुल्क इलाज जैसी सुविधा अन्य किसी भी राज्य में नहीं है।

श्री गहलोत ने कहा कि ऐतिहासिक राजस्थान हाउस का पुनर्निर्माण कार्य हमारी प्राथमिकता रही है। राजस्थान से दिल्ली आने वाले आगंतुकों को नए हाउस में उच्च स्तरीय सुविधाएं मिलेंगी। इस राजकीय गेस्ट हाउस के पुनर्निर्माण में राजस्थान की कलात्मक स्थापत्य शैली का खूबसूरत तरीके से समन्वय किया जाएगा।

मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार दिल्ली के राजस्थान एवं बीकानेर हाउस सहित प्रदेश के सर्किट हाउस तथा डाक बंगलों जैसे ऐतिहासिक और महत्वपूर्ण भवनों को मजबूती प्रदान कर रही है।

आवासीय आयुक्त धीरज श्रीवास्तव ने बताया कि भवन के निर्माण की योजना में राजस्थान शैली के मूल तत्वों तथा वास्तुकला सामग्री के साथ प्रदेश की भावना, संस्कृति एवं परंपरा को प्रमुखता से समन्वित किया गया है। उन्होंने बताया कि नवीन राजस्थान हाउस की निर्माण योजना में ग्रीन कॉन्सेप्ट, वाटर हार्वेस्टिंग, सोलर सिस्टम, वेस्ट मैनेजमेंट सिस्टम का भी ध्यान रखा गया है।

नई दिल्ली के ‘लुटियंस जोन’ में 7050 वर्ग मीटर में बनने वाला नवीन राजस्थान हाउस, राजस्थान सरकार का एक राजकीय गेस्ट हाउस है। नवीन राजस्थान हाउस में दो बेसमेंट, भूतल और छह फ्लोर का प्रावधान रखा गया है। भवन के बेसमेंट में पार्किंग भी बनाई जाएगी। मुख्य भवन में लॉबी, कैफेटेरिया, वेटिंग एरिया, डाईनिंग एरिया, फव्वारा, हैंगिंग झूमर, एट्रियम आदि का निर्माण किया जाएगा। भवन की बाहरी दीवार पर धौलपुर सैण्ड स्टोन क्लेडिंग का कार्य किया जाएगा।

प्रथम तल पर कॉन्फ्रेंस हॉल, पुस्तकालय और जिम का भी निर्माण किया जाना प्रस्तावित है। छत पर टैरेस गार्डन, पार्टी हॉल, योग कक्ष आदि का भी निर्माण होना है।

श्री श्रीवास्तव ने बताया कि राजस्थान के विभिन्न प्रान्तों से प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी करने के लिए दिल्ली आने वाले विद्यार्थियों की सुविधा के लिए नेहरू यूथ ट्रांजिट हॉस्टल एवं सुविधा केन्द्र बनाया जा रहा है। इसके लिए 256.91 करोड़ रुपए की स्वीकृति दी जा चुकी है। जिससे उनको होने वाली समय एवं धन की हानि को न्यूनतम किया जा सकेगा तथा उनको एक ही स्थान पर रहने, खाने एवं पढ़ने की सुविधा मिल सकेगी।

नई दिल्ली स्थित बीकानेर हाउस को भी अन्तर्राष्ट्रीय स्तर के कला एवं सांस्कृतिक केन्द्र के रूप में विकसित किया जा रहा है। इसके लिए 42.89 करोड़ रुपए की स्वीकृति दी जा चुकी है। इसके अंतर्गत एम्फीथिएटर, आर्ट गैलेरी, ऑफिस ब्लॉक, इन्डोर थिएटर, स्टॉफ क्वार्टर्स, सुरक्षा स्टॉफ क्वार्टर्स सहित विभिन्न निर्माण कार्य किए जाएंगे।