घायल 10वीं के छात्र की इलाज के दौरान मौत, छह बहनों के बीच इकलौता था अरशद

0
203
दिल्ली में तेज रफ्तार एसयूवी ने बाइक को मारी टक्कर, दो की मौत
दिल्ली में तेज रफ्तार एसयूवी ने बाइक को मारी टक्कर, दो की मौत

मेरठ: कुशावली रोड पर तीन दिन पहले सड़क हादसे में घायल दसवीं के छात्र अरशद की सुबह उपचार के दौरान मौत हो गई। अरशद छह बहनों का इकलौता भाई था। उसकी सलामती के लिए दुआएं हो रही थीं, लेकिन वह जिंदगी की जंग हार गया। परिजनों ने पोस्टमार्टम कराने से मना कर दिया। पुलिस ने पंचनामा भरकर शव परिजनों को सौंप दिया।

बीते शनिवार को मुजफ्फरनगर बरात में जाते समय स्विफ्ट कार कुशावली रोड पर पेड़ से टकरा गई थी। हादसे में कार सवार पांच युवक गंभीर घायल हो गए थे। जिनमें दसवीं के छात्र तल्हा की अस्पताल ले जाते समय मौत हो गई थी।

रॉयल बुलेटिन की खबर के अनुसार, जबकि चार युवकों को अस्पताल में भर्ती कराया था। सुबह घायल अरशद पुत्र अख्तर की उपचार के दौरान मौत हो गई। उसका उपचार मेरठ के निजी अस्पताल में चल रहा था। सुबह चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया।

सूचना मिलते ही थाना पुलिस मौके पर पहुंची। पुलिस ने शव पोस्टमार्टम के लिए भेजने का प्रयास किया तो परिजनों ने मना कर दिया।

छात्र अरशद की मौत की सूचना पर परिवार में गम का कहर टूट पड़ा। मां-बाप और छह बहनों का रो-रोकर बुरा हाल था। बहनें बार-बार बेहोश हो रही थीं। हर किसी की आंखों से आंसू बह रहे थे।

परिजनों ने बताया कि अख्तर के घर में छह बेटियों के जन्म के बाद अरशद को गोद लिया था। अरशद की मौत के बाद पूरे परिवार को उम्र भर के लिए गमगीन माहौल में छोड़ गया।