राजस्थान: जुनैद और नासिर के लिए इंसाफ की लड़ाई लड़ने वाले अताउल्लाह प्रधान को पुलिस ने किया गिरफ्तार

0
124
Photo: Sharjeel Usmani/Twitter

घाटमिका: राजस्थान के दो मुस्लिम युवकों को हरियाणा में जिंदा जलाने की घटना को लगभग एक महीना बीत चुका है. लेकीन अभी तक असल मुजरिम पुलिस की गिरफ्त से बाहर है.

जिस राजस्थान पुलिस की जिम्मेदारी हत्यारों को पकड़ने की है वह जुनैद और नासिर के लिए इंसाफ की लड़ाई लड़ने वालों को गिरफ्तार कर रही है.

जर्नो मिरर की खबर के अनुसार, जुनैद और नासिर को इंसाफ दिलाने के लिए धरने पर बैठे अताउल्लाह प्रधान को राजस्थान पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है.

सोशल एक्टिविस्ट शरजील उस्मानी के मुताबिक़, राजस्थान के घाटमिका में मरहूम जुनैद और नासिर की दर्दनाक हत्या को लेकर चल रहे धरने को शुरू से मज़बूती देने वाले भाई अताउल्लाह प्रधान को अरेस्ट किए जाने की खबर बेहद चिंताजनक है. भाई पहले दिन से लोगों को हिम्मत देने का काम कर रहे थे. राजस्थान की कांग्रेस सरकार ज़्यादती पर उतारू है.

शरजील आगे बताते हैं कि ”भरतपुर और एतराफ़ के इलाक़ों में आज भी प्रोटेस्ट और रैली जारी हैं. मरहूम जुनैद और नासिर के क़ातिलों की गिरफ़्तारी की मांग को लेकर चल रहे धरने में बैठे कई लोगों को पुलिस परेशान कर रही है. तीन रोज़ पहले अताउल्लाह प्रधान को पुलिस ने अरेस्ट किया. भारत जुड़ेगा मुसलमान के खून से शायद. राजस्थान सरकार भाई अताउल्लाह प्रधान को फ़ौरन रिहा करे और मुक़दमे वापिस ले.”

आपको बता दें कि, इससे पहले भी राजस्थान पुलिस धरना ख़त्म करने का दबाव बना चुकी है तथा धरने पर बैठे लोगों एवं पत्रकारों को नोटिस भी दे चुकी है.