IND vs AUS: अहमदाबाद टेस्ट में वापसी करेंगे मोहम्मद शमी, पिच पूरी तरह स्पिनरों के मुफीद होने की संभावना कम

0
181

नई दिल्ली: भारत के सबसे वरिष्ठ तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी को ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ अहमदाबाद में नौ मार्च से शुरू होने वाले चौथे टेस्ट की अंतिम एकादश में जगह मिलने की उम्मीद है।

शमी को कार्यभार प्रबंधन के तहत इंदौर में खेले गए तीसरे टेस्ट से विश्राम दिया गया था। भारतीय टीम प्रबंधन ने मेडिकल स्टाफ के परामर्श से आईपीएल (इंडियन प्रीमियर लीग) के ज्यादातर मैचों को खेलने वाले और एकदिवसीय विश्व कप की योजना में शामिल तेज गेंदबाजों के कार्यभार प्रबंधन की योजना बनाई है।

शमी शुरुआती दो टेस्ट खेले थे और वह एकदिवसीय टीम का भी हिस्सा हैं। इंदौर टेस्ट में टीम में उनकी जगह उमेश यादव को शामिल किया गया था।

अमृत विचार की खबर के अनुसार, शुरुआती तीन टेस्ट में सिराज ने सिर्फ 24 ओवर गेंदबाजी की है और 17 से 22 मार्च तक खेले जाने वाले तीनों एकदिवसीय में उनके अंतिम एकादश में शामिल रहने की संभावना है। ऐसे में उन्हें मोटेरा के नरेंद्र मोदी स्टेडियम में खेले जाने वाले आखिरी टेस्ट में विश्राम दिया जा सकता है। शमी इस श्रृंखला में अब तक सबसे बेहतर तेज गेंदबाज रहे है।

उन्होंने दो मैचों में 30 ओवर गेंदबाजी की है और सात विकेट चटकाये है। मोटेरा की सूखी पिच पर टीम को उनकी अधिक जरूरत होगी। ऐसी पिच रिवर्स स्विंग के लिए अनुकूल हो सकती है।

भारत चार टेस्ट मैचों की श्रृंखला 2-1 से आगे चल रहा है और विश्व टेस्ट चैम्पियनशिप के फाइनल में सीधे क्वालीफाई करने के लिए उसे इस मुकाबले को जीतना होगा। इंदौर में होलकर स्टेडियम की पिच को आईसीसी (अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद) मैच रेफरी क्रिस ब्रॉड ने ‘खराब’ की रेटिंग दी थी लेकिन गुजरात क्रिकेट संघ (जीसीए) इस तरह का कोई जोखिम नहीं लेना चाहेगा।

राज्य संघ के एक सूत्र ने कहा, ‘‘हमें (पिच को लेकर) भारतीय टीम प्रबंधन से कोई निर्देश नहीं मिला है और हमारे स्थानीय ‘क्यूरेटर’ सामान्य पिच तैयार कर रहे हैं जैसा कि हमने पूरे सत्र में किया है।’’

उन्होंने कहा, ‘‘दरअसल, यहां जनवरी में आखिरी रणजी मैच में रेलवे ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 500 (508) से अधिक का स्कोर बनाया था और गुजरात की टीम ने पारी की हार के बावजूद दोनों पारियों में 200 से अधिक का स्कोर बनाया था। इस बार भी कुछ अलग नहीं होगा।”

टेस्ट मैच शुरू होने में चार दिन से कम बाकी है और अभी यह पता नहीं है कि बीसीसीआई (भारतीय क्रिकेट बोर्ड) ‘क्यूरेटर’ तपोश चटर्जी और आशीष भौमिक जब यहां की जिम्मेदारी अपने हाथ में लेंगे तो पिच का मिजाज कैसा होगा।

उन्होंने कहा, जाहिर तौर पर पिछले कुछ दिनों से बीसीसीआई की मैदान और पिच समिति स्थानीय क्यूरेटर को निर्देश दे रही है. लेकिन निश्चित रूप से हमारा प्रयास एक अच्छी टेस्ट मैच पिच तैयार करना है। अहमदाबाद में पिछली बार कोविड-19 महामारी के दौरान दो टेस्ट मैच खेले गये थे। यह दोनों मैच दिन-रात्रि थे और ये मुकाबले दो दिनों के अंदर खत्म हो गये थे।