जेपीसी की मांग को लेकर विपक्षी दलों का प्रदर्शन

0
156
Photo: ANI/Twitter

नई दिल्ली: मंगलवार को कांग्रेस और अन्य विपक्षी दलों ने अदानी मसले पर जेपीसी के गठन की मांग को लेकर संसद के मुख्य भवन के फस्र्ट फ्लोर पर जोरदार प्रदर्शन किया। विपक्षी सांसदों ने बड़े-बड़े पोस्टर,बैनर और होडिर्ंग लहराते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ नारेबाजी की।

विपक्षी दलों के इस विरोध प्रदर्शन पर तीखा पलटवार करते हुए केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर ने कहा कि आजकल भ्रष्टाचार करने वाले सब लोग एक साथ आ गए हैं और संसद भी नहीं चलने देते हैं। उन्होंने कहा कि बजट सत्र महत्वपूर्ण है और सरकार चाहती है कि सदन चले, राहुल गांधी माफी मांग लें और सदन चलने लगेगा।

ठाकुर ने इसे चोरी और सीनाजोरी बताते हुए कहा कि विदेशी धरती से भारत पर बार-बार प्रहार करना और बदनाम करना, राहुल गांधी की आदत बन गई है। वे लगातार हर मामले में झूठ फैलाते हैं और उसके बाद माफी भी नहीं मांगते हैं।

Photo: ANI/Twitter

केंद्रीय मंत्री ने कांग्रेस और गांधी परिवार की आलोचना करते हुए कहा कि जो सवाल पूछे जा रहे हैं, उनका जवाब ये लोग नहीं दे रहे हैं। उन्होंने कहा कि एफएटीएफ की रिपोर्ट पर आज तक प्रियंका गांधी और कांग्रेस ने कोई जवाब नहीं दिया कि दो करोड़ में पेंटिंग बेचने की क्या जरूरत थी? पैसे के बदले पद्म पुरस्कार क्यों बेचा गया?

उन्होंने पूछा कि कांग्रेस पार्टी यह भी बताए कि क्या वो लद्दाख और अरुणाचल प्रदेश को भारत का हिस्सा मानती है या नहीं, क्योंकि उन्होंने सेना पर भी आरोप लगाए थे।

राहुल गांधी पर निशाना साधते हुए केंद्रीय मंत्री ने कहा कि उन्होंने आरोप लगाया कि लोकतंत्र की सफाई हो रही है, जबकि सच यह है कि भारतीय लोकतंत्र में कांग्रेस की सफाई हो रही है। उन्होंने झूठ बोला कि उन्हें बोलने का अवसर नहीं दिया जाता है, जबकि हर विषय पर उन्हें बोलने का मौका दिया जाता है, लेकिन बिना तैयारी के आना और विषय पर नहीं बोलना, यह उनकी आदत बन गई है।

उन्होंने कहा कि राहुल गांधी ने महिलाओं के खिलाफ अपराध की बात की, लेकिन जब दिल्ली पुलिस जानकारी लेने पहुंची, तो उनके हाथ पांव फूल गए।

—आईएएनएस