‘‘अमीर और अमीर तथा गरीब और गरीब होते जा रहे हैं’’: सिब्बल

0
138
राजनीति को प्रभावित करता है ‘सांप्रदायिकता का वायरस’: सिब्बल
राजनीति को प्रभावित करता है ‘सांप्रदायिकता का वायरस’: सिब्बल

नई दिल्ली: राज्यसभा के सदस्य कपिल सिब्बल ने सामाजिक न्याय के प्रति भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) की प्रतिबद्धता वाली टिप्पणी को लेकर शुक्रवार को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पर निशाना साधा और दावा किया कि इस सरकार के शासन में ‘‘अमीर और अमीर तथा गरीब और गरीब होते जा रहे हैं.”

बीजेपी के 44वें स्थापना दिवस पर पार्टी सदस्यों को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने भाजपा को विकास, विश्वास और नए विचार का पर्याय बताते हुए कहा था कि सामाजिक न्याय उनकी पार्टी की विचारधारा का आधार है. विपक्षी दलों पर निशाना साधते हुए मोदी ने कहा था कि ऐसे दलों की संस्कृति परिवारवाद, वंशवाद, जातिवाद और क्षेत्रवाद की रही है.

उन्होंने कहा था, ‘‘जबकि बीजेपी की राजनीतिक संस्कृति प्रत्येक देशवासी को साथ लेकर चलने की है. कांग्रेस जैसी पार्टियों की संस्कृति छोटा-छोटा सोचना, छोटे सपने देखना और उससे भी कम हासिल करके खुशियां मनाना है. खुशी मतलब एक दूसरे की पीठ थपथपाना है. बीजेपी की राजनीतिक संस्कृति है बड़े सपने देखना और उससे भी ज्यादा हासिल करने के लिए जी-जान से खप जाना.”

सिब्बल ने ट्वीट किया, ‘‘प्रधानमंत्री ने कहा कि बीजेपी सामाजिक न्याय के लिए जीती है और अक्षरश: इसका पालन करती है. जबकि तथ्य है-

1) 2012-2021 तक अर्जित धन का 40 प्रतिशत केवल एक प्रतिशत आबादी के पास गया.

2) 2022 में अडाणी की संपत्ति में 46 प्रतिशत की वृद्धि हुई.

3) 64 प्रतिशत जीएसटी (वस्तु एवं सेवा कर) निचले तबके से 50 प्रतिशत आया, जबकि केवल चार प्रतिशत शीर्ष 10 प्रतिशत ने अदा किया.”

सिब्बले ने कहा, ‘‘अमीर और अमीर तथा गरीब और गरीब हो रहे हैं.”

संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन की पहली और दूसरी सरकार के दौरान केंद्रीय मंत्री रहे सिब्बल ने पिछले साल मई में कांग्रेस छोड़कर समाजवादी पार्टी में शामिल हो गए थे और उसी के समर्थन से एक स्वतंत्र सदस्य के रूप में राज्यसभा के लिए चुने गए थे. उन्होंने हाल में अन्याय से लड़ने के मकसद से ‘इंसाफ’ नामक एक मंच शुरू किया है.

(इनपुट पीटीआई-भाषा)