तुर्की ने सीरिया में आईएस नेता को मार गिराया: एर्दोगन

0
166
तुर्की के राष्ट्रपति रेसेप तईप एर्दोगन
तुर्की के राष्ट्रपति रेसेप तईप एर्दोगन

अंकारा: तुर्की ने सीरिया में एक खुफिया अभियान के दौरान आतंकी समूह इस्लामिक स्टेट (आईएस) के सरगना अबू हुसैन अल-कुरैशी को मार गिराया। राष्ट्रपति रेसेप तईप एर्दोगन ने यह घोषणा की।

सरकारी अनादोलु समाचार एजेंसी ने एर्दोगन के हवाले से कहा, राष्ट्रीय खुफिया संगठन (एमआईटी) लंबे समय से आईएस नेता अबू हुसैन अल-कुरैशी का पीछा कर रहा था।

राष्ट्रपति ने कहा, यह पहली बार है जब मैं यहां यह कह रहा हूं। एमआईटी द्वारा कल (शनिवार) चलाए गए एक ऑपरेशन में इस व्यक्ति को मार गिराया गया। हम बिना किसी भेदभाव के आतंकवादी संगठनों के खिलाफ अपना संघर्ष जारी रखेंगे।

नवंबर 2022 में, आतंकी समूह ने अपने पिछले नेता, अबू हसन अल-हाशिमी अल-अल-कुरैशी की मौत की घोषणा की थी, उनकी जगह अबू हुसैन अल-कुरैशी को नियुक्त किया था।

2013 में, तुर्की आईएस को आतंकवादी संगठन घोषित करने वाले पहले देशों में से एक था।

तब से देश पर कई बार आतंकवादी समूह द्वारा हमला किया गया है, इसमें कम से कम 10 आत्मघाती बम विस्फोटों, सात बम हमलों और चार सशस्त्र हमलों में 300 से अधिक लोग मारे गए और सैकड़ों अन्य घायल हुए हैं।

जवाब में, तुर्की ने देश और विदेश में आतंकवाद विरोधी अभियान शुरू किया है।

बीबीसी की रिपोर्ट के अनुसार, आतंकवादी समूह ने एक बार उत्तरी इराक से उत्तर-पूर्वी सीरिया तक 88 हजार वर्ग किमी क्षेत्र पर कब्जा कर लिया था और लगभग 80 लाख लोगों पर अपना क्रूर शासन लागू कर दिया था।

समूह को 2019 में अपने अंतिम क्षेत्र से खदेड़ दिया गया था, लेकिन संयुक्त राष्ट्र ने पिछले साल जुलाई में चेतावनी दी थी कि यह खतरा बना हुआ है।

अनुमान है कि सीरिया और इराक में आईएस के लगभग 10 हजार लड़ाके हैं, जो ज्यादातर ग्रामीण क्षेत्रों में स्थित हैं और घात लगाकर हमला करते हैं।

—आईएएनएस