दिल्ली पुलिस ने कुश्ती संघ प्रमुख के खिलाफ पहलवानों के आरोपों की जांच शुरू की

0
91
Photo: @SakshiMalik/twitter
Photo: @SakshiMalik/twitter

नई दिल्ली: भारतीय कुश्ती संघ (डब्ल्यूएफआई) के प्रमुख बृज भूषण शरण सिंह के खिलाफ पहलवानों के विरोध के बीच दिल्ली पुलिस ने खेल मंत्रालय द्वारा शिकायतों की जांच के लिए गठित समिति से रिपोर्ट मांगी है।

एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बताया, हमें सात शिकायतें मिली हैं और वर्तमान में उन सभी की जांच कर रहे हैं। ठोस सबूत मिलने के बाद हम प्राथमिकी दर्ज करेंगे। हमने डब्ल्यूएफआई प्रमुख के खिलाफ लगाए गए यौन उत्पीड़न के आरोपों की जांच के लिए खेल मंत्रालय द्वारा गठित समिति से भी एक रिपोर्ट मांगी है।

ओलंपियन पहलवान बजरंग पुनिया, साक्षी मलिक, विनेश फोगट और अन्य शीर्ष भारतीय पहलवानों ने रविवार को मध्य दिल्ली के जंतर-मंतर में डब्ल्यूएफआई प्रमुख के खिलाफ फिर से अपना विरोध प्रदर्शन शुरू कर दिया।

एशियाई खेलों और राष्ट्रमंडल खेलों की स्वर्ण पदक विजेता विनेश पत्रकारों से बात करते हुए रो पड़ीं।

विनेश ने पहले कहा था कि उन्हें बृजभूषण शरण सिंह द्वारा मानसिक उत्पीड़न का शिकार होना पड़ा जिस कारण उन्होंने आत्महत्या के बारे में भी सोचा था।

प्रदर्शन कर रही एक पहलवान ने रविवार को आईएएनएस को बताया कि एक नाबालिग सहित सात महिला पहलवानों ने संसद मार्ग थाने में शिकायत दर्ज कराने की कोशिश की, लेकिन पुलिस अधिकारियों ने प्राथमिकी दर्ज करने से इनकार कर दिया।

पहलवान ने कहा था, हमें कई तरफ से धमकियां मिल रही हैं और दो महीने से अधिक समय तक इंतजार करने के बाद, हमने थाने में शिकायत दर्ज करने की कोशिश की, लेकिन पुलिस अधिकारियों ने हमें भगा दिया। हमें नहीं पता कि यहां क्या हो रहा है। हम अपना विरोध फिर से शुरू करेंगे और हमारी मांगें पूरी होने तक जंतर-मंतर पर धरने पर बैठेंगे।

आईएएनएस ने पिछले महीने खबर दी थी कि प्रदर्शनकारी पहलवान बृजभूषण की बर्खास्तगी के लिए अपना आंदोलन फिर से शुरू कर सकते हैं।

—आईएएनएस