लियोन के आठ विकेट, भारत 163 पर ढेर, ऑस्ट्रेलिया को 76 का लक्ष्य

0
184

इंदौर: नाथन लियोन (8/64) की बेहतरीन गेंदबाजी की बदौलत होल्कर स्टेडियम में गुरुवार को आस्ट्रेलिया ने बॉर्डर-गावस्कर ट्रॉफी के तीसरे टेस्ट के दूसरे दिन 60.3 ओवर में भारत को 163 रन पर आलआउट कर दिया, जिससे कंगारूओं को 76 रनों का लक्ष्य मिला। टीम की ओर से चेतेश्वर पुजारा (59) और श्रेयस अय्यर (26) ने सबसे ज्यादा रन बनाए। लियोन के अलावा, मिचेल स्टार्क और मैथ्यू कुहनमैन ने एक-एक विकेट लिया।

तीसरे सत्र में आगे खेलते हुए पुजारा और अय्यर ने तेज गति से रन बनाए। इससे आस्ट्रेलिया की बढ़त को बराबर करने में मदद मिली। लेकिन दोनों के बीच 39 गेंदों में 35 रनों की साझेदारी को स्टार्क ने तोड़ा, जब अय्यर (26) का शानदार कैच उस्मान ख्वाजा ने पकड़ा। इस बीच, पुजारा ने संयम से खेलते हुए 108 गेंदों में अपना अर्धशतक पूरा किया।

लेकिन दूसरे छोर से लगातार विकेट गिरते रहे, क्योंकि लियोन ने अपनी फिरकी के जाल में भारतीय बल्लेबाजों को फंसाया, जिससे केएस भरत (3), आर अश्विन (16), उमेश यादव (0) और मोहम्मद सिराज (0) उनके शिकार बने।

आस्ट्रेलिया ने दूसरे दिन का खेल खत्म होने तक 60.3 ओवर में भारत को 163 रनों पर ढेर कर दिया। अब कंगारूओं को जीतने के लिए 76 रनों की आवश्यकता है। यह लियोन (8/64) के टेस्ट करियर का दूसरा सबसे अच्छा प्रदर्शन था। वहीं, अक्षर पटेल (15) रन बनाकर नाबाद रहे।

इससे पहले, भारत चायकाल तक अपने चार विकेट 79 रन पर गंवा दिए। मेजबान टीम अभी भी आस्ट्रेलिया की पहली पारी की 88 रन की बढ़त से नौ रन पीछे थी ।

होल्कर स्टेडियम की पिच से आस्ट्रेलियाई गेंदबाजों के साथ टर्न के साथ बाउंस भी मिल रहा था। वह काफी संयमित तरीके से गेंदबाजी कर रहे थे। भारत को यहां से एक बहुत ही अच्छी साझेदारी की आवश्यकता थी। चायकाल के समय चेतेश्वर पुजारा (36) और श्रेयस अय्यर खाता खोले बिना क्रीज पर थे।

आस्ट्रेलिया के आफ स्पिनर नाथन लियोन ने तीन भारतीय बल्लेबाजों को पवेलियन भेजा। लियोन ने कप्तान रोहित शर्मा (12), शुभमन गिल (5) और रवींद्र जडेजा (7) को आउट किया, जबकि विराट कोहली (13) को लेफ्ट आर्म स्पिनर मैथ्यू कुहनमैन ने अपना शिकार बनाया।

पहले सत्र में मेहमान टीम 200 रन से केवल तीन रन पीछे रह गई, फिर भी टीम ने अपने पास 88 रन की बढ़त रखी थी। भारत 16 ओवरों में सफलता हासिल करने में असमर्थ रहा। लेकिन ड्रिंक्स ब्रेक के बाद, चीजें बदल गईं, क्योंकि उमेश और अश्विन ने क्रमश: 3/12 और 3/44 का आंकड़ा दर्ज किया।

आस्ट्रेलिया ने अपने आखिरी छह विकेट 28 गेंदों में सिर्फ 11 रन पर गंवा दिए। जबकि उमेश ने रिवर्स स्विंग के साथ शानदार गेंदबाजी की और घरेलू मैदान में 100 टेस्ट विकेट तक पहुंचे। अश्विन टर्न निकालने में सक्षम रहे, जिसमें उन्हें विकेट हासिल करने में मदद मिली।

—आईएएनएस